PM Kusum Solar Subsidy Yojana 2024: कुसुम योजना से सरकार खेतों में सोलर पंप लगाने हेतु दे रही है 90% तक सब्सिडी, जाने कैसे करें आवेदन

PM Kusum Solar Subsidy Yojana 2024: कुसुम योजना से सरकार खेतों में सोलर पंप लगाने हेतु दे रही है 90% तक सब्सिडी, जाने कैसे करें आवेदन

PM Kusum Solar Subsidy Yojana 2024: प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महा अभियान (PM Kusum Solar Subsidy Yojana) का मुख्य उद्देश्य किसानों को सोलर पंप सेट पर सब्सिडी प्रदान करके उनके बिजली के खर्च को कम करना है। इस PM Kusum Solar Subsidy Yojana 2024 के अंतर्गत, किसान 90% तक की सब्सिडी पा सकते हैं, जो कि उन्हें सोलर पंप सेट की खरीददारी में मदद करेगी। इससे उनकी खेती में बिजली की उपलब्धता में सुधार होगा और वे अधिक सही तकनीक से काम कर सकेंगे। इसके अलावा, यह योजना किसानों को नए ऊर्जा स्रोतों का अनुसंधान और विकास के लिए प्रोत्साहित करती है, जिससे उन्हें ज्यादा सहायक और उन्नत तकनीक की दिशा मिलती है। यह PM Kusum Solar Subsidy Yojana 2024 किसानों को स्थायी समाधान प्रदान करती है, जो कि उनके जीवन को सुगम और उत्तेजित करने में मदद करती है।

PM Kusum Solar Subsidy Yojana 2024 Overview

आर्टिकल का नाम  PM Kusum Solar Subsidy Yojana
किसने शुरू किया केंद्र सरकार ने
वर्ष 2019
योजना का उद्देश्य किसानो को खेतों की सिचाई के लिए सब्सिडी पर सोलर पंप प्रदान करना।
लाभार्थी देश के सभी नागरिक
आवेदन का तरीका ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट pmkusum.mnre.gov.in

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना 2024

प्रधानमंत्री कुसुम सोलर सब्सिडी योजना 2024 के अंतर्गत, किसानों को सिंचाई के लिए सोलर पंप प्राप्त करने में सहायता प्रदान की जाएगी। इस PM Kusum Solar Subsidy Yojana 2024 के अनुसार, किसानों को 60% सब्सिडी पर सोलर पंप प्रदान किया जाएगा, जिसका 30% लोन बैंक से प्राप्त किया जा सकता है। इसका मतलब है कि लाभार्थी किसान को केवल 10% लागत भुगतान करना होगा।

PM Kusum Solar Subsidy Yojana 2024 का उद्देश्य है कि पहले 17.5 लाख पेट्रोल और डीजल संचालित पंपों को सोलर पंपों में परिवर्तित किया जाए। इसके बाद, बिजली से संचालित पंपों पर ध्यान दिया जाएगा। इसके माध्यम से सरकार का उद्देश्य है कि किसानों की आय बढ़ाकर खेती में उत्पादकता को बढ़ावा देना।

ये बी पढ़े: Agneepath Yojana 2024: अग्निपथ योजना ऑनलाइन आवेदन, पात्रता व Agneepath Scheme चयन प्रक्रिया

Kusum Yojana 2024 Objective

कुसुम योजना 2024 का मुख्य उद्देश्य भारतीय किसानों को मुफ्त में बिजली उपलब्ध करवाना है। यह योजना सौर ऊर्जा के सोलर पैनल की सुविधा प्रदान करके किसानों को सिचाई के लिए सोलर पावर प्लांट लगाने की सहायता प्रदान करती है, जिससे वे अपने खेतों को पूरी तरह से सिचा सकें। इससे किसानों को दोहरा फायदा होगा। पहला, उनकी खेती में उत्तम सिचाई के लिए सोलर पैनल का उपयोग करने से पानी की बचत होगी और उनकी उत्पादकता बढ़ेगी। दूसरा, अगर किसान अधिक बिजली उत्पादित करके ग्रिड को बेचते हैं, तो उन्हें इसकी कीमत भी मिलेगी। इसके अलावा, यह योजना किसानों को नई ऊर्जा स्रोतों की ओर आकर्षित करती है और उनकी आमदनी में वृद्धि करने में मदद करती है।

ये बी पढ़े: Palanhar Yojana Form 2024: सभी बच्चों को दे रही सरकार ₹2500 प्रतिमाह पोषण के लिए, तत्काल आवेदन करें

PM Kusum Yojana Benefits

PM KUSUM Yojana (Pradhan Mantri Kisan Urja Suraksha evam Utthaan Mahabhiyan) किसानों को सस्ते सौर सिंचाई पंप प्रदान करने का एक महत्वपूर्ण योजना है जिसके कई लाभ हैं। यह योजना किसानों को सोलर पावर से चलने वाले सिंचाई पंप्स की सब्सिडी प्रदान करने का लक्ष्य रखती है। इससे किसानों को अधिक उत्पादकता और आय की सुविधा मिलती है। यहां हम इस योजना के लाभों को विस्तार से समझेंगे और इसके एक चरण की स्थिति में कैसे आवेदन किया जा सकता है, इसके बारे में चरण-चरण जानकारी प्रदान करेंगे:

  • PM KUSUM Yojana के अंतर्गत, किसानों को सस्ते सौर सिंचाई पंप प्रदान किए जाएंगे। ये पंप सौर ऊर्जा से चलेंगे जो कि डीजल की खपत को कम करेगा।
  • 2024 तक, कुसुम योजना के पहले चरण में 17.5 लाख सिंचाई पंपों को सौर ऊर्जा से चलाया जाएगा, जिससे कि किसानों को और भी बेहतर सुविधा मिले।
  • सिंचाई देने वाले पंप सौर ऊर्जा से चलेंगे, जिससे कृषि उत्पादन में वृद्धि होगी।
  • योजना से मेगावाट अतिरिक्त बिजली बनाई जाएगी जो कि सामाजिक और आर्थिक विकास में महत्वपूर्ण योगदान करेगी।
  • सोलर पेनल लगाने वाले किसानों को केंद्र सरकार द्वारा 60% वित्तीय सहायता, बैंक 30% ऋण, और किसानों को सिर्फ 10% का भुगतान करना होगा।
  • राज्यों में सूखाग्रस्त होने पर, कुसुम योजना लाभदायक होगी क्योंकि किसान अपने खेतों को बिजली से सिचा सकेंगे।
  • किसान सोलर पेनल से उत्पादित अतिरिक्त बिजली को सरकारी या गैर सरकारी विद्युत विभागों में बेच सकता है, जिससे उन्हें प्रति माह 6000 रुपये की मदद प्राप्त होगी।
  • योजना के अनुसार, सोलर पेनल बंजर जमीन पर लगाए जाएंगे, जिससे बंजर जमीन का भी उपयोग होगा और आय मिलेगी।

ये बी पढ़े: AICTE Free Laptop 2024: सरकार दे रही है सभी छात्रों को फ्री लैपटॉप, यहाँ से करें आवेदन

Important Documents

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • रजिस्ट्रेशन की कॉपी
  • ऑथराइजेशन लेटर
  • जमीन की जमाबंदी की कॉपी
  • चार्टर्ड अकाउंटेंट द्वारा जारी नेटवर्थ सर्टिफिकेट (विकासकर्ता के माध्यम से प्रोजेक्ट विकसित करने की स्थिति में)
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया:

  • सबसे पहले आपको पीएम कुसुम योजना की आधिकारिक वेबसाइट pmkusum.mnre.gov.in पर जाना होगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको मेनू सेक्शन में विभिन्न विकल्प दिखाई देंगे। यहां पर आपको State Portal Link पर क्लिक करना है।
  • State Portal Link पर क्लिक करने के बाद आपको अपने राज्य का चयन करना है।
  • जैसे ही आप अपने राज्य का चयन करेंगे, आपके सामने एक नई विंडो खुल जाएगी जहां पर आपको सोलर पंप सब्सिडी योजना का आवेदन फॉर्म मिलेगा।
  • आवेदन फॉर्म पर क्लिक करें और मांगी गई सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भरें। इसमें आपके व्यक्तिगत विवरण, जमीन की जानकारी, और सोलर पंप की आवश्यकता से संबंधित जानकारी भरें।
  • फॉर्म में मांगी गई सभी आवश्यक दस्तावेज जैसे पहचान पत्र, जमीन के कागजात, बैंक खाता विवरण आदि को स्कैन करके अपलोड करें।
  • सभी जानकारी भरने और दस्तावेज अपलोड करने के बाद सबमिट बटन पर क्लिक करें। सबमिट करने के बाद आपको एक रसीद प्राप्त होगी, जिसे आप प्रिंट कर सकते हैं।
  • आपके द्वारा सबमिट किए गए आवेदन की जांच की जाएगी। सभी जानकारी सही पाए जाने पर, आपकी जमीन का परीक्षण किया जाएगा।
  • परीक्षण के बाद, यदि आप पात्र पाए जाते हैं, तो आपको सोलर पंप के लिए कुल लागत का केवल 10% ही भुगतान करना होगा।
  • यदि आपके राज्य के लिए कोई अलग पोर्टल है, तो कृपया उस पोर्टल पर जाकर आवेदन करें। प्रत्येक राज्य के लिए सरकार ने अलग से पीएम कुसुम सोलर पोर्टल बनाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *